Aniruddh Kumar, 146th Rank, Hindi Medium Topper-2017: Mock Interview - Videos

41
395

Aniruddh kumar is topper(Hindi Medium) in UPSC-2017. He got 146th rank. Drishti IAS is uploading video of Aniruddh’s Mock Interview to help UPSC aspirants for their exam. This video will help lot of students to understand the process of Interview.
अनिरूद्ध कुमार 2017 की यूपीएससी परीक्षा में 146वाँ रैंक हासिल कर हिंदी माध्यम से टॉपर बने हैं। उन्होंने दृष्टि संस्थान में जो मॉक इंटरव्यू दिया था उसे दृष्टि आई.ए.एस चैनल पर अपलोड किया गया है ताकि यूपीएससी के सभी अभ्यर्थियों को लाभ मिल सके। इस वीडियो के जरिये अभ्यर्थी इंटरव्यू की प्रक्रिया को समझ पाएंगे और अपनी तैयारी को सही दिशा में आगे बढ़ा कर सफलता की मजबूत दावेदारी पेश कर सकेंगे। मॉक इंटरव्यू प्लेलिस्ट में हम समय-समय पर कई सफल विद्यार्थियों के वीडियोज़ अपलोड करेंगे।

source

41 COMMENTS

  1. वाकई कमाल हो गया सर…, ये वही अनिरुद्ध सिंह हैं जिनकी पत्नी (आरती सिंह) ने वर्ष 2016 में 118वीं रैंक प्राप्त कर आईपीएस बनीं थीं और इस बार 2017 में तो अनिरुद्ध भैया ने भी कमाल कर दिया और 146वीं रैंक ले आए।
    दोस्तों, दृष्टि के युट्यूब चैनल के Toppers view में अभी भी आरती सिंह मैम का विडियो है, उसे भी देखिए उसमें अनिरुद्ध सिंह जी भी हैं।
    आप दोनों को तहेदिल से बधाई…

  2. SIR, without coaching ke aur aapke study material ,internet,reference books se hindi medium me acchi rank la sakta hu…..ar sir mai writing practice kb se suru karu quki bina kisi v subject me deep knowledge ke bina kuch v likha nhi jata….

  3. ये देख कर तो अच्छा लगा की जहानाबाद से किसी चयन यूपीएससी मे हूआ है; वो हिंदी माध्यम से जो आज के संदॆभ मे काफी कठिन है इसके लिए हाद्रीक शुभकामनाएँ।

    पर अनिरूद्ध जी के सवालो के जवाब देने के तरीके से सहमत नही हूँ। उन्होने या तो जवाब दिया की इसके बारे मे उन्हे जानकारी नही और दूसरी की उनकी जवाब काफी ही साधारण था।

    कोई बात नही चयन होना ही बड़ी बात होती है इसलीए 🎉

  4. इस विडियों को फिर से देखूंगा अभी कहीं मैं जा रहा हुँ।यह विडियों अच्छा है।

  5. सेफ जोन में खेले।
    साधारण से उत्तर।
    वैचारिक इंसान नहीं दिखते ये इस इंटरव्यू में।

  6. Sir. Apne jo quran par sawal kiya surah taoba.ke bare me .shayad shayad wo sawal hi galat tha. Kyun sawal ke sath apne us ayat ka jo tarjuma kiya wo sahi hai koi shak nahi, magar us ayat ke piche ki ayat aor aage ki ayat.bhi maloom hona chahiye jaise jaise kufr yani kuffar yani islaam.allah .mohammad ko na manne wale lakin us ayat ki tafseel malum karenge to apko malum hoga ki us ayat ko kis halaat.kis conditions kis wajah se allah nr aadesh diya ,for example
    jab islaam ki shuruaat huee to arab me ladkiyo ko zinda dafna diya jata tha.gareeb mazloom ko becha khareeda jata unper zulm kiya jata unko nichi jaat matlab gira huaa samjhe jata. Aorton ke sath nazayz samband. Ayyashi.sharaab daaru, ye sab aam baat thi to is tarah ki conditions per allah ka adesh hukm msg ke taor par mohammad SAW rsool ke paas ata.jis waqt islaam ki shuruaat huee us waqt allah ke rasool ne akele shruaat ki aor aaj bhi aap dekhenge ki world me sabse tezi se bafhne wala dharm islaam hai. To ye bhi anuman lagana ki islaam talval ke bal par phaila to galat hai aor na yr islaam ki ye taleem hai.ha magar zulm.sitam najayz qatlo gaarat,jaat paat ko khatm jarne ke liye jang ka aadesh hai,
    agar aap beech se ek ayat ka matlab nikal kar apne anuman se uski paribhasha karenge to apko islaam negative hi samajh ayga. Hae saal world me 300se zada log islaam qubool karte hain zadater log high education qualify log hote hai. To sir agar aap musalman ko dekhker islaam samjhege to naho samajh payenge. Aise hi hindutv bhi hai. Ved ho ya quran agar beech se ek ward nikal kar khud ka anuman lagaker dharm ki paribhasha denge to msg galat jayga. Negative sawal ka negative jawab jayga, shukriya sir
    agar padhne ke baat narazgi ho maaf kijiye ga .aap teachers hai ustaad hai jinko mai apne maa baap ki tarah izzat deta hun.ye bhi islaam ki taleem hai,
    maine koshish ki islaam ke bare jo galat fahmi ho usko dur kardun bas yahi koshish thi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here