Civil Services Exam | Target First Attempt As Your Last Attempt | By Shanu Dimri AIR 270 CSE – 2017 - Videos

21
509

शानू डिमरी ने आईआटी कानपुर से इकोनॉमिक्स में इंटिग्रेटेड एमएससी किया है और कोई सालभर एक जर्मन इन्वेस्टमेंट बैंक में काम करने के बाद नौकरी छोड़ कर सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी. शानू ने पहली कोशिश में सिविल सेवा परीक्षा में २७१ रैंक हासिल किया है और उन्हें लगता है कि इस परीक्षा की तैयारी करने वाले छात्रों को पहली कोशिश को ही आखिरी कोशिश के तौर पर देखना चाहिए. शानू ने अपनी बात कुछ इस तरह रखने की कोशिश की है कि कोई भी छात्र जो अभी तैयारी शुरू कर रहा है और उसे कुछ ख़ास नहीं पता है उसे भी एक दिशा मिल सके.

source

21 COMMENTS

  1. Each and every word of urs is making a great sense….hats off to u…vry nice & clear explanation n good strategy and planning for all..things even for back ups..vry thoughtful….

  2. My friend is visually impaired but she can write her paper in her own writing. Is it compulsory for candidates seeking physically handicapped quota in UPSC IAS to use a scribe or she can have option of writing her own?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here